पुरस्कार समारोह में हमारे पूर्व राष्ट्रपति ने सोशल मीडिया पोस्ट साझा करने के लिए कुछ कहा |

हमारे पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि यदि आप सोशल मीडिया का उपयोग कर रहे हैं तो पोस्ट साझा करते समय सावधान रहें और तथ्यों की जांच करें और फिर पोस्ट को साझा करें
कुछ लोग हैं जो गलत खबर साझा करते हैं और कुछ समय के लिए निर्दोष लोग भी उनकी पोस्ट साझा करते हैं वो भी एक पार्टी के कह लाते है | पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा की लिखित मीडिया का प्रभाव ज्यादा होता है | प्रणब मुखर्जी ने कहा कि मुझे प्रिंट मीडिया पर बहुत भरोसा है | प्रणब मुखर्जी जी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा मुझे विश्वास होता है जब मैं न्यूज़ पढ़ता हूं सही तरीके से लिखा गया है और उसको वेरीफाई भी किया गया है | परंतु सोशल मीडिया पर कोई किसी भी खबर का विस्वास होना मुश्किल होता है |

सोशल मीडिया पर न्यूज़ का सही होना या गलत होना का पता नहीं चलता है इसीलिए हमको कोई भी न्यूज़ या खबर को शेयर करने से पहले एक बार जांच कर देना सही है और सावधानी बरतने से गलत न्यूज़ ज्यादातर लोगों तक नहीं पहुंचेगी और वह कम से कम लोगों तक पहुंच पाएगी और लोगों को गलतफहमी ना होगी | गलत और बेकार सूचना पहुंचने पर लोगों को निराशा और गलतफहमी हो जाती है जिसके लिए वह दूसरे लोगों को भी वह खबर या सूचना सजा करते हैं | मुखर्जी जी ने कहा कि हमारी मीडिया पेपर से लेकर इंटरनेट के जमाने पर टाइपराइटर पर और अब मोबाइल फोन पर तक पहुंच गई है तो हमको अपनी पत्रिका पर या पत्र ज़ी न्यूज़ पर किसी भी तरह का समझौता नहीं करना चाहिए निष्पक्षता से खबर को जैसा है वैसा ही प्रदर्शित करना चाहिए उसके साथ कोई भी छेड़छाड़ या एक तरफा खबर जैसा बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए |

पूर्व प्रधान मंत्री प्रणब मुखर्जी ने कहां के समाचार पढ़ते समय आपका एकमत हो सकता है का दृष्टिकोण सकता है परंतु जब आप देश की जनता के सामने समाचार को प्रदर्शित करते हैं तो फैक्ट और फिगर को देते समय सावधानी बरतनी चाहिये | पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि देश की रक्षा और लोकतंत्र की रक्षा के लिए प्रेस का बड़ा योगदान है |

हमारे पूर्व राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि महान शक्तियां बड़ी जिम्मेदारी के साथ आती हैं |
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने यह बंगाल पहला स्थान है जहाँ पहला भारतीय समाचार पत्र हिक्की बंगाल गजट 1780 प्रकाशित हुआ था। हमारे मीडिया ने देश के स्वतंत्रता में अपना योगदान दिया है |

हमारे पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी बंगाल में मीडिया अवार्ड फंक्शन थे, मीडिया समारोह पिछले रविवार को था, इसलिए पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी हमारे स्थानीय लोगों से कुछ महत्वपूर्ण बातें कहते हैं, जो कुछ समाचार साझा करते हैं, लेकिन उन्होंने तथ्यों की जांच नहीं की है अगर खबर गलत थी और हम भी खबर साझा करते हैं तो हम गलत सूचना साझा करते हैं खबर गलत थी और हम भी खबर साझा करते हैं तो हम गलत सूचना साझा करते हैं
इसलिए हमें सोशल मीडिया पर एक खबर साझा करते समय सबसे पहले जांच करनी चाहिए। जब हम सोशल मीडिया पर कोई समाचार साझा करते हैं तो हमें सावधानी बरतनी चाहिए यही बात कही हमरे पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी जीं ने |


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *